CNG gas in hindi | CNG gas क्या है | CNG gas full form in hindi
cng gas hindi

CNG gas in hindi | CNG gas क्या है | CNG gas full form in hindi

आज दुनियाभर में प्रदूषण एक चिंता का विषय बना हुवा है, प्रदुषण रोकने या कम करने की दिशा में नए-नए प्रयास किए जा रहे हैं। देखा जाए तो प्रदूषण बढ़ने और पर्यावरण के दूषित होने के मुख्य कारणों में से एक वाहनों की बढ़ती हुई संख्या और उनमे उपयोग होने वाला ईंधन भी है, जैसे डीजल, पेट्रोल इत्यादि, जिनके जलने पर वातावरण में कई जहरीली गैसें निकलती हैं, जो पर्यावरण को दूषित करने का काम करती हैं। इस समस्या के समाधान के लिए CNG गैस को लाया गया, तो चलिए जानते हैं, CNG gas kya hai, CNG gas in hindi 

CNG gas क्या है | CNG gas in Hindi

CNG का full form है, Compressed natural gas जिसे हिंदी में संपीडित प्राकर्तिक गैस कहा जाता है। CNG गैस का उपयोग मुख्य रूप से गाड़ियों में ईंधन के तोर पर किया जाता है। जैसे की इसके नाम से ही पता चलता है, यह एक प्राकर्तिक गैस है, जो की पर्यावरण के अनुकूल है, और ना सिर्फ पर्यावरण के बल्कि आर्थिक रूप से भी CNG दूसरे ईंधन डीजल और पेट्रोल के मुकाबले काफी किफायती और सुरक्षित होती है। CNG में 90 प्रतिशत तक प्राकर्तिक गैस मीथेन होती है, जिसे कंप्रेस करके इसे तैयार किया जाता है, और CNG से चलने वाली गाड़ीयों को NGV (natural gas vehicle) कहा जाता है। 

सी-एन-जी गैस में पर्यावरणीय रूप से कम हानिकारण गुण होने के कारण इसे स्वच्छ ईंधन भी कहा जाता है, इसे पर्यावरण के अनुकूल यानि (Eco-friendly) माना जाता है, क्योंकि यह दूसरे ईंधनों के मुकाबले काफी कम उत्सर्जन उत्पन्न करती है। इसमें नाइट्रोजन डाइऑक्साइड, कार्बन डाइऑक्साइड और सल्फर डाइऑक्साइड की कम मात्रा होती है, जिस कारण CNG gas environment friendly कहलाती है। 

CNG को डीजल और पेट्रोल के विकल्प के रूप में लाया गया था, जो आज धीरे-धीरे मार्किट में अपनी पकड़ बना चूका है। CNG गैस के फायदों को देखते हुवे कई लोग आज CNG fitted गाड़ी लेना पसंद करते हैं। देश के बढे शहरों में सरकारी बसों और दूसरी कमर्शियल गाड़ियों में CNG का अधिक इस्तमाल किया जाने लगा है, और वैसे भी विभिन्न श्रोतों से प्राप्त जानकारी अनुसार आने वाले समय में परिवाहन क्षेत्र में डीजल और पेट्रोल का उपयोग ना के बराबर हो जाएगा, और पर्यावरण अनुकूल ईंधन जैसे CNG और साथ ही इलेक्ट्रिक गाड़ियों का उपयोग और चलन बढ़ जाएगा। 

लगातार डीजल और पेट्रोल का उपयोग होने के कारण जिस गति से वातावरण प्रदूषित हुवा है, इसे और बत्तर स्तिथि से बचाने के लिए आवश्यक है, की प्राकर्तिक गैस से तैयार ईंधन का ही उपयोग किया जाए।

इस दिशा में सरकार ने कई नए कदम भी उठाए हैं, आज दिल्ली जैसे बढे शेहर में रोड पर दौड़ रही सभी सरकारी बसों और दूसरे कमर्शियल वाहनों को CNG युक्त कर दिया गया है, वहीँ दूसरी ओर इलेक्ट्रिक गाड़ियों के प्रचार-प्रसार के लिए नए कदम उठाए जा रहे हैं, और इनकी सेल बढे इसके लिए जहाँ गाड़ी के लोन पर लगने वाले टैक्स पर छूट दी जा रही है, वहीँ नए-नए ऑफर भी दिए जा रहे हैं। कुल-मिलाकर CNG (Compressed natural gas) दूसरे ईंधन के मुकाबले एक पर्यावरण के अनुकूल और सुरक्षित विकल्प है, जिसका उपयोग करना सामाजिक और आर्थिक रूप से फायदेमंद है। 

CNG गैस के गुण | Properties of CNG gas in Hindi

  • सी-एन-जी एक गंधहीन, टेस्टलेस और नॉन टॉक्सिक गैस होती है। इसमें गंध लाने के लिए ethyl mercaptan नाम की गैस मिलाई जाती है, ताकि लीक होने पर इसका पता चल सके। 

  • CNG का मुख्य अवयव मीथेन होता है, साथ ही इसमें दूसरे अवयव जैसे प्रोपेन, नाइट्रोजन, कार्बन डाइऑक्साइड, हाइड्रोजन सल्फाइड और ऐथेन के अंश भी होते हैं। 

  • पर्यावरण की दृष्टि से भी CNG एक स्वस्छ वैकल्पिक ईंधन है। 

  • यह काफी हलकी होती है, जिस कारण रिसाव की स्थति में यह जल्दी से हवा में फ़ैल जाती है। 

  • CNG का ऑटो इग्निशन तापमान लगभग 540 डिग्री सेल्सियस होता है, जिस कारण गर्म सतह पर इसमें जल्दी आग लगने की संभावना कम होती है। 

CNG गैस के लाभ | Advantage of CNG gas in Hindi

  • सी-एन-जी गैस की कीमत दूसरे ईंधन जैसे पेट्रोल और डीजल के मुकाबले सस्ती होती है। 

  • CNG से चलने वाली गाड़ियाँ दूसरे ईंधन के मुकाबले अच्छा माइलेज देती हैं। 

  • इसे ग्रीन फ्यूल कहा जाता है, क्योंकि इससे चलने वाली गाड़ियाँ दूसरे ईंधन की तुलना में कम प्रदुषण करती है। 

  • दुर्घटना की स्तिथि में CNG से चलने वाली गाड़ी पेट्रोल और डीजल से चलने वाली गाड़ियों की तुलना में अधिक सुरक्षित होती है, क्योंकि किसी प्रकार के दबाव की स्तिथि होने पर या तापमान या गैस का प्रेशर बढ़ने पर CNG सिलेंडर इस प्रकार डिज़ाइन किया गया होता है, जो खुद ही गैस रिलीज़ कर देता है। 

  • CNG का इग्निशन तापमान 500 डिग्री सेल्सियस से ऊपर होता है, जो की पेट्रोल (280 डिग्री सेल्सियस) और डीजल (210 डिग्री सेल्सियस) से तुलना में अधिक होता है, यानि CNG में पेट्रोल और डीजल की तुलना में जल्दी आग नहीं पकड़ती। 

  • CNG गाड़ियाँ पेट्रोल और CNG दोनों ईंधन पर चल सकती है। 

  • देखा गया है, की CNG पर चलने वाली गाड़ी का लुब्रीकेंट आयल जल्दी ख़राब नहीं होता है। 

  • हलकी होने के कारण CNG लीक होने पर यह हवा में आसानी से मिक्स हो जाती है। 

CNG गैस के नुकसान | Disadvantage of CNG in Hindi

  • CNG टैंक काफी जगह घेरता है, जिस कारण गाड़ी की डिक्की में अधिक जगह नहीं बच पाती है, तो CNG युक्त गाड़ी में जगह की समस्या रहती है। 

  • सी-एन-जी पंप की संख्या पेट्रोल या डीजल पंप की तुलना में काफी कम होती है, जिस कारण सभी CNG पंपों पर CNG filling के लिए लाइन लगानी पड़ती है। 

  • पेट्रोल की तुलना में CNG कम पावर उत्पन्न करता है, यदि आप CNG गाड़ी को पेट्रोल पर स्विच करते हैं, तो इंजन में अधिक ऊर्जा महसूस करेंगे। 

  • CNG गाड़ी का Pick up और Acceleration पेट्रोल गाड़ी की तुलना में कम होता है। 

  • हर तीन साल बाद गाड़ी में लगी CNG kit टेस्ट करवानी पड़ती है।

निवेदन

दोस्तों आपने जाना CNG gas kya hai, CNG gas in hindi, उम्मीद है, दी गई जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी होगी। यदि जानकारी अच्छी लगी है, तो इसे दोस्तों में साथ शेयर करें और यदि इस पोस्ट से जुड़े आपके कोई सवाल या सुझाव हैं, तो नीचे कमेंट कर हमें बताएं। 

यह भी पढ़ें 

लोजिस्टिक्स क्या होता है 

आउटसोर्सिंग क्या होती है 

Leave a Reply