PHR address kya hota hai | डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड में PHR एड्रेस क्या है
phr kya hota hai

PHR address kya hota hai | डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड में PHR एड्रेस क्या है

आज के इस पोस्ट में आप डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड के बारे में जानेंगे और साथ ही ABHA, HIE-CM और PHR address kya hota hai यह भी जानेंगे। दोस्तों इंसान की बुनियादी जरूरतों में उसे भोजन, पिने के साफ़ पानी, कपड़ा और आवास के साथ स्वास्थ्य संबंधित सुविधाओं की भी अत्यंत आवश्यकता होती है, ताकि स्वास्थ्य से जुड़ी कोई समस्या उत्पन्न होने पर उसे सही समय पर सही इलाज मिल सके।

देश के आम नागरिक की इसी जरुरत को देखते हुवे भारत सरकार द्वारा सितंबर 2018 में आयुष्मान भारत योजना को लागु किया गया था, जिसका मुख्य लक्ष आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ देना था।

इस योजना का लक्ष्य ना सिर्फ देश के प्रत्येक नागरिक को स्वास्थ्य सुविधा से जोड़ना था, बल्कि यह देश की स्वास्थ्य व्यवस्था में बदलाव की एक शुरुवात भी थी।

इसी को एक कदम आगे बढ़ाते हुवे सरकार द्वारा सितम्बर 2021 को (ABDM) आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन को लागु किया गया, जिसका उद्देश्य देश के दूसरे क्षेत्रों में हो रहे डिजिटिलीकरण की ही तरह स्वास्थ्य क्षेत्र को भी डिजिटिलाइज करना था। तो चलिए जानते हैं, (ABDM) आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन और PHR address kya hota hai

(ABDM) आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन क्या है | What is ABDM in Hindi 

ABDM के तहत भारत सरकार द्वारा एक डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड जारी किया गया है, जिसे आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट (ABHA) कार्ड कहा जाता है। इस कार्ड के द्वारा देश का प्रत्येक नागरिक अपने स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी को डिजिटल रूप से संगृहीत कर सकता है, यानि आप अपने स्वास्थ्य से जुड़े रिकार्ड्स, अपनी मेडिकल रिपोर्ट्स को डिजिटली स्टोर कर सकते हैं। 

जिससे इलाज के समय या डॉक्टर के पास जाते समय हर बार की तरह आपको अपनी मेडिकल रिपोर्ट्स ले जाने से छुटकारा मिल जाएगा, क्योंकि आपका पूरा मेडिकल रिकॉर्ड ऑनलाइन उपलब्ध होगा जिसे आप जब चाहें, जहाँ से चाहें देख सकते हैं। 

तो प्रत्येक नागरिक जिसे आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (ABDM) से जुड़ना है, और अपने मेडिकल रिकार्ड्स को डिजिटली स्टोर रखना है, उन्हें अपना Health Id या ABHA Card बनवाना होगा ताकि वे इस सुविधा का लाभ ले सकें।

आभा कार्ड मे तीन महत्वपूर्ण चीजें होती हैं, उस व्यक्ति का PHR Address (पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड) , ABHA नंबर और HIE-CM (हेल्थ इनफार्मेशन एक्सचेंज एंड इनफार्मेशन कंसेंट मैनेजर) तो चलिए जानते हैं, ABHA नंबर, HIE-CM और PHR address kya hota hai

(ABHA) आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट नंबर क्या है | ABHA number in Hindi 

ABHA नंबर आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट नंबर रजिस्ट्रेशन के दौरान एक स्वतः उत्पन्न 14 अंकों की संख्या होती है, जिसका उपयोग व्यक्ति की पेहचान करने, उन्हें प्रमाणित करने और उनकी सहमति से उनके स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी को शेयर करने के लिए किया जाता है।

दूसरे शब्दों में कहा जाए तो कोई भी व्यक्ति जो (ABDM) आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के तहत अपना हेल्थ आईडी कार्ड बनवाना चाहता है, और अपने स्वास्थ्य से जुड़े रिकार्ड्स या दस्तावेजों को डिजिटली या ऑनलाइन रखना चाहता है, इसके लिए उसे अपना ABHA number बनवाना होता है। 

Phr address kya hota hai | What is PHR address in Hindi

PHR का Full form होता है (Personal health record) PHR एड्रेस को ABHA एड्रेस भी कहा जाता है, यह एक खास एड्रेस होता है, जो की आपके आभा हेल्थ आईडी कार्ड पर दर्ज रहता है। PHR एड्रेस एक लॉगिन आईडी का काम करता है, जिसके द्वारा (HIE-CM) हेल्थ इनफार्मेशन एक्सचेंज और ABDM कंसेंट मैनेजर पर sign in किया जाता है, यानि हर एक आभा नंबर को डाटा शेयरिंग enable करने के लिए कंसेंट मैनेजर पर लॉगिन होना होता है। 

जब आप अपना आभा हेल्थ आईडी बनाते हैं, तो सबसे पहले आपका 14 अंकों का आभा नंबर जनेरेट होता है, जिसके बाद आपको अपने आभा नंबर को PHR address से लिंक करना होता है।

यहाँ पर यदि आपका पहले से कोई PHR एड्रेस या ABHA एड्रेस मौजूद है, तो आप उसका उपयोग कर सकते हैं, और नहीं होने पर PHR एड्रेस के लिए आपको Signup करना होता है, जिसके बाद PHR address डालने का एक खाली स्थान मिलता है, जहाँ पर आप अपने अनुसार एक unique PHR एड्रेस डाल सकते हैं, लेकिन ध्यान रहे आप उस एड्रेस को आसान रखें और कही नोट जरूर कर लें, ताकि भविष्य में आवश्यकता पड़ने पर आप उसका इस्तेमाल कर सकें। 

PHR एड्रेस एक विशिष्ठ (Unique) पेहचान पत्र की तरह है, जो आपको अपने हेल्थ रिकार्ड्स से जुड़ी जानकारि को दूसरों के साथ डिजिटली स्टोर व शेयर करने की सुविधा प्रदान करता है, यानि अगर आप आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के तहत अपने हेल्थ रिकार्ड्स की जानकारी ऑनलाइन रखना चाहते हैं, या किसी के साथ शेयर करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपका PHR address होना अनिवार्य है। 

HIE-CM क्या है

HIE-CE का full form है, हेल्थ इनफार्मेशन एक्सचेंज एंड कंसेंट मैनेजर, यह एक प्रोग्राम है, जो प्रत्येक यूजर को उसके स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी को लिंक करने और दूसरों से साँझा करने की सहूलियत प्रदान करता है। ABDM द्वारा अपने हेल्थ रिकॉर्ड एप्लीकेशन को रोल आउट किया गया है, तो हेल्थ रिकॉर्ड डाटा की शेयरिंग के लिए प्रत्येक हेल्थ आईडी को ABDM कंसेंट मैनेजर से लिंक करना अनिवार्य है।  

(ABHA) कार्ड बनवाने के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स

आभा कार्ड  या हेल्थ आईडी कार्ड बनवाने के लिए आपको निम्नलिखित डाक्यूमेंट्स की जरुरत होती है। 

  1. मोबाइल नंबर 
  2. आधार नंबर 
  3. पैन नंबर 
  4. ड्राइविंग लाइसेंस

ऑनलाइन आवेदन के समय ऊपर बताए गए इन डाक्यूमेंट्स की जानकारी आपको भरनी होती है। 

(आभा) आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट नंबर या हेल्थ कार्ड कैसे बनवाएं

आभा कार्ड बनवाने की पूरी प्रक्रिया नीचे बताई गई है, हेल्थ कार्ड बनवाने की यह प्रक्रिया बहुत आसान है, जिसे आप 10 मिनट के भीतर पूरा कर सकते हैं। 

  1. सबसे पहले आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन की आधिकारिक वेबसाइट Abdm.gov.in या healthid.ndhm.gov.in पर जाएं।
  2. आप चाहें तो ABHA मोबाइल एप्लीकेशन भी इनस्टॉल कर सकते हैं। 
  3. आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर Create Abha number के टैब पर क्लिक करें। 
  4. आप आधार से खुलवाना चाहते हैं, या ड्राइविंग लाइसेंस से, वह सेलेक्ट करें।   
  5. आधार पर क्लिक करने के बाद next करें, अपना आधार नंबर डालें और I Agree पर क्लिक करने के बाद Next कर लें। 
  6. इसके बाद आधार से जुड़े आपके मोबाइल नंबर पर OTP आएगा उसे पूछे गए स्थान पर डाल कर वेरीफाई कर लें। 
  7. अब आपके मोबाइल नंबर के लिए पूछा जाएगा जिसे पूछे गए स्थान पर डाल कर नंबर को वेरीफाई कर लें। 
  8. इसके बाद अगले पेज पर आपको अपनी जानकारी जैसे आपका नाम, जन्मतिथि, लिंग, एड्रेस इत्यादि की जानकारी दर्ज करनी होगी। 
  9. इन सभी के साथ आपको अपना PHR address भी डालना होगा, यह एक स्वघोषित User name होता है, यानि आप अपने  अनुसार खुद इसे डाल सकते हैं, ताकि आसानी से इसे याद रखा जा सके। 
  10. पूरी जानकारी भरने के बाद Submit के बटन पर क्लिक कर के आप अपना हेल्थ आईडी कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। 

(ABHA) आयुष्मान भारत हेल्थ अकाउंट के फायदे

आयुष्मान भारत हेल्थ आईडी कार्ड बनवाने के निम्नलिखित लाभ हैं। 

  1. इलाज से जुड़ी रिपोर्ट्स को हर बार ले जाने, उन्हें संभालकर रखने का झंझट ख़त्म हो जाता है, यानि आपके इलाज, टेस्ट से लेकर डिसचार्ज होने तक की पूरी जानकारी डिजिटली उपलब्ध रहती है। 

  2. यदि आप एक डिजिटल हेल्थ कार्ड होल्डर हैं, तो स्वास्थ्य सेवाओं और डॉक्टरों के सभी विवरण आसानी से देख सकते हैं। 

  3. आप यदि अपने स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी डॉक्टर को दिखाना चाहते हैं, तो अपनी हेल्थ आईडी देकर उन्हें अपना मेडिकल रिकार्ड् दिखा सकते हैं। 

निष्कर्ष

आपने जाना डिजिटल हेल्थ कार्ड क्या होता है, PHR address kya hota hai और साथ ही ABHA नंबर और HIE-CM के बारे में भी आपने पढ़ा। हमें उम्मीद है, दी गई यह जानकारी आपको ज्ञानवर्धक लगी होगी, यदि जानकारी अच्छी लगी है, तो इसे दूसरों को भी शेयर करें। 

Leave a Reply