प्यार में क्या जरुरी होता है | सच्चे प्यार की जरुरी बातें | What is important in love
प्यार में क्या जरुरी होता है

प्यार में क्या जरुरी होता है | सच्चे प्यार की जरुरी बातें | What is important in love

हैलो दोस्तों आज के इस पोस्ट में आप जानेंगे की, वे कौन सी ऐसी बातें हैं, या ऐसे पेहलु हैं, प्यार में जिनका होना आवश्यक है, यानि Pyar me kya jaruri hota hai

कहा जाता है, की प्यार की कोई भाषा नहीं होती है, प्यार आपको कहीं भी और किसी से भी हो सकता है। क्या सिर्फ प्रेमी से अपने प्यार का इजहार कर लेना ही काफी है, क्या अपने पार्टनर से यह कह देना ही काफी है, की आप उनसे प्यार करते हैं ? या बिना कहे दूसरे को अपने प्यार का एहसास कराना या प्यार महसूस कराना अधिक महत्व रखता है। 

दो लोगों के बीच का प्यार ही एक मजबूत relationship की नीव रखता है, तो एक कभी न टूटने वाले अच्छे रिलेशनशिप को बनाए रखने के लिए वे कोन सी दूसरी बातें हैं, या पहलु हैं, जिनका रिलेशनशिप में होना अति आवश्यक है। 

तो चलिए जानते हैं, की अपने प्यार को बनाए रखने और एक मजबूत रिलेशनशिप के लिए क्या जरुरी है। वे कौन से ऐसी बातें हैं, जिन्हे ध्यान में रखना चाहिए यानि प्यार में क्या जरुरी होता है। 

Pyar me kya jaruri hota hai | What is Important in Love in Hindi

यहाँ पर मुख्य 6 ऐसी बातें बताई गई हैं, जिनका किसी भी रिलेशनशिप या प्यार में होना बहुत जरुरी है। यदि आप भी अपने रिश्ते को मजबूती देना चाहते हैं, या रिश्ते को हमेशा बरक़रार रखना चाहते हैं, तो आपको प्यार के इन मूल्यों को अपनाना होगा। 

(Trust) :-

कहाँ जाता है, की कोई भी रिश्ता विश्वास की बुनियाद पर टिका होता है, जहाँ विश्वास टूट गया वहाँ रिश्ता नाम मात्र का ही रह जाता है। इसी प्रकार प्यार के रिश्ते में भी विश्वास का होना सबसे महत्वपूर्ण है, क्योंकि यदि आप अपने पार्टनर पर trust नहीं करते हैं, या वे आप पर trust नहीं कर पाते हैं, तो आप चाहे जितना कोशिश कर लें, आपके रिलेशनशिप में वो ठहराव नहीं आ सकता जिसकी शायद आप कलपना करते हैं। 

यहाँ पर यह महत्व नहीं रखता है, की आप किसी से कितना प्यार करते हैं, क्योंकि यदि आप उन पर trust नहीं करते हैं, तो प्यार का वह रिश्ता बस नाम मात्र का ही रह जाता है। हालाँकि समय के साथ ट्रस्ट बनाया जा सकता है, तो यदि आपके प्यार के रिश्ते में थोड़ा भी विश्वास की कमी है, तो आप फिर से विश्वास जगा सकते हैं। 

(Honesty) :- Pyar me kya jaruri hota hai

प्यार के रिश्ते में ईमानदारी का होना भी उतना ही महत्वपूर्ण है, जितना पार्टनर के प्रति आपका विश्वास, क्योकिं विश्वास तभी तक रह पाता है, जब तक वहाँ ईमानदारी मौजूद होती है। कोई भी रिश्ता जो सफ़ेद झूठ की बुनियाद पर बना हो, वो अधिक दिनों तक जीवित नहीं रह सकता है।  इस लिए आवश्यक है, की हमेशा अपने पार्टनर या जिनसे भी आप प्यार करते हैं, उनके प्रति ईमानदार रहें, ताकि वे आप पर विश्वास कर सकें, आपकी commitment को समझें जिससे खुद ब खुद ही आपका संबंध मजबूत होता चला जाएगा। 

(Respect) :-

वह Respect ही होती है, जिससे किसी का भी दिल जीता जा सकता है। ठीक इसी प्रकार प्यार के रिश्ते में भी सम्मान की आवश्यकता होती है। चाहे आप अपने पार्टनर से बेइंतिहा प्यार करते हों, लेकिन यदि आपके रिश्ते में आपसी सम्मान नहीं है, तो कहीं न कहीं ये आपसी सम्मान की कमी प्यार के अंत की वजह भी बन सकती है, तो प्यार के रिश्ते में सम्मान को भी स्थान दें। 

(Emotional support) :-

प्यार का रिश्ता भावनाओं से जुड़ा होता है, यहाँ ऐसे कई पल आते हैं, जहाँ पर आपके पार्टनर को भावनात्मक सहारे की आवश्यकता होती है। ऐसे में आपका साथी ही आपका सहारा होता है, जो अपने पार्टनर की भावनाओं को समझ कर उसे emotional support देता है। आप ऐसा चाहेंगे की अच्छे समय में आपका साथी जो आपके साथ है, वो बुरे वक़्त या किसी भावनात्मक परिस्थिति से गुजरते समय भी आपके साथ खड़ा रहे। 

(Compromise) :-

प्यार में Compromise का अर्थ सिर्फ यही नहीं है, की अपने पार्टनर को खुश रखने के लिए आपने उन्हें उनके पसंद की कोई वस्तु दिला दी, या बदले में उन्होंने आप को कुछ दिला दीया। बल्कि यहाँ पर Compromise शब्द से अर्थ acceptance से है, यानि प्यार में ऐसी कई परिस्थितियाँ आती हैं, जहाँ पर आपका पार्टनर कई विषयों पर आपसे अलग सोच रख सकता है। तो उन परिस्थितयों में भी यदि आप उनकी सोच को स्वीकार कर लेते हैं, तो मेरा मानना है, की यह असल compromise है, लेकिन यह दोतरफा होना आवश्यक है। 

(Communication) :- Pyar me kya jaruri hota hai

किसी भी दूसरे रिश्ते की तरह प्यार के रिश्ते में भी कम्युनिकेशन का होना अति आवश्यक है। यही वह एक चीज है, जिसके होने पर ही ऊपर बताए गए सभी पॉइंट्स लागु हो सकते हैं, क्योंकि यदि दो लोगों के बीच कम्युनिकेशन गैप है, तो चीजे उलझती चली जाती हैं। तो जरुरी है, की रिलेशनशिप में आपको अपने पार्टनर के साथ अपनी भावनाएं थता सोच को openly व्यक्त करना चाहिए, जिससे चीजे स्पष्ट हो सकें और साथ ही आपको पार्टनर की बातों को भी सुनना और उतना ही महत्व देना आवश्यक है।  


दोस्तों उम्मीद है, आपको प्यार की उन जरुरी बातों की जानकारी अब हो गई होगी। यदि जानकारी आपको अच्छी लगी है, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।  


यह भी पढ़ें। 

सच्चा प्यार क्या होता है।

लव डे कब मनाया जाता है। 

Leave a Reply