What is real love in hindi | सच्चा प्यार क्या होता है और सच्चा प्यार क्यों होता है।

What is real love in hindi | सच्चा प्यार क्या होता है और सच्चा प्यार क्यों होता है।

आज के इस लेख में हम जानेंगे सच्चा प्यार क्या होता है, What is real love in Hindi, प्यार जो की एक छोटा सा शब्द है, लेकिन इसकी गहराई का अनुमान लगाना काफी मुश्किल है। 

आप भी एक ऐसा जीवन जीना चाहते हैं, जहाँ आपके चारो तरफ प्यार ही प्यार हो, आप किसी से प्यार करें और आपसे भी कोई उतना ही प्यार करे, लेकिन क्या हकीकत में ऐसा होता है?

क्या आपने भी किसी से सच्चा प्यार किया है, लेकिन आपको वो खुशी, वो फीलिंग, उस अपनेपन का एहसास नहीं हुवा जिसकी आप इच्छा रखते हैं, या सिर्फ अपनी इच्छाओं की  प्राप्ति हो जाना ही सच्चा प्यार है।

लोग अक्सर इस बात को नहीं समझ पाते हैं, की असल में सच्चा प्यार क्या होता है, सच्चा प्यार किसे कहते हैं, What is real & unconditional love, क्या प्यार में कोई सर्त होती है, और किस प्रकार आप एक सच्चे प्यार की पहचान कर सकते हैं।

दुनिया में प्यार ही एक ऐसा शब्द है, जिसकी व्याख्या करना बहुत मुश्किल है, क्योंकि ये दिल का मामला है, जिसे समझाया नहीं जा सकता है। लेकिन फिर भी चलिए हम कोशिश करते हैं, और सच्चे प्यार के बारे में अपने विचार आपके सामने रखते हैं। 

सच्चा प्यार क्या होता है। What is real love in Hindi

सच्चा प्यार वह मीठा एहसास है, जिसे सिर्फ महसूस किया जा सकता है, ये उस दवा की तरह है, जिससे किसी गहरे से गहरे घाव को भी भरा जा सकता है। प्यार किसी के प्रति एक अनूठा और अटूट भाव है, जिसे लाखों शब्दों द्वारा भी बयां नहीं किया जा सकता। यह एक पल में होता है, और जिंदगी भर के लिए आपके दिल में याद बन कर रह जाता है। 

हम सभी के जीवन में वो एक पल जरूर आता है, जब हम किसी को चाहने लगते हैं, हमें कोई इतना पसंद आता है, की बस उसे देखते रहने का मन करता है, उसकी हँसी, उसका मुस्कुराना, उसकी खुशी सब हमें अपना सा लगने लगता है। 

प्यार की बात।

जब आप को पुरे दिन साथ रहने के बाद भी दिन एक पल सा लगे, दूर रहने पर हर पल उसका ख्याल आए, उसकी कही गई बातें सोच कर आप मुस्कुराने लगें, उसका घंटो इंतजार करना भी आपको अच्छा लगने लगे तो समझ लीजिये की आपके दिल में प्यार की घंटी बज गई है। यही प्यार की शुरुवात है, जिसकी गहराई यदि प्यार सच्चा हो तो समय के साथ बढ़ती चली जाती है।

सच्चे प्यार में अपने प्यार के प्रति त्याग, सम्मान, care की भावना होती है, उसकी खुशी में अपनी खुशी महसूस होती है और किसी भी तरह से उसे दुख पहुँचने पर आप खुद भी दुखी महसूस करने लगते हैं। 

प्यार का सच्चा होना सिर्फ इस बात से तय नहीं किया सकता है, की वह दोनों तरफ से हो , अधिकत्तर सच्चा प्यार एक तरफा ही सुनने और देखने में आता है।

सच्चा प्यार कभी भी ख़त्म नहीं होता क्योंकि ये एक feeling है, जो जिंदगी भर आपके दिल में रह जाती है। यदि आप भी किसी से प्यार करते हैं, और अपने मन में उस इंसान के प्रति अच्छी भावना रखते हैं, आपके मन में कभी भी उसके प्रति कोई बुरा विचार नहीं उत्पन्न होता है, तो हो सकता है, आपका प्यार भी सच्चा हो।  

सच्चा प्यार कैसे होता है। How does true love happen in Hindi

प्यार होना या करना ये सब आपके हाथ में नहीं होता, प्यार बस खुद ब खुद हो जाता है, जहाँ पर आपका दिल प्यार का सिग्नल देने लगता है, जिसे बस आपको समझने की जरुरत होती है। 

प्यार की शुरुवात अधिक्तर आकर्षण से होती है, जब आपको कोई उसके चेहरे से, बोल-चाल से, विचारों से, व्यक्तित्व से या कर्म से इतना आकर्षित लगने लगता है, की बस आप उस से एक बार बात करना चाहते हैं, उसे देखना चाहते हैं। 

फिर जब आप उसके नजदीक आते हैं, और आपको उसे और समझने का मौका मिलता है, तो धीरे-धीरे वो आपकी जिंदगी का एक हिस्सा बन जाते हैं। 

जहाँ पर बस आप उनके साथ रहना चाहते हैं, उनकी हर कही हुई बातें आपको दिन रात याद आने लगती हैं, दूर रहते हुवे भी आप उन्हें अपने पास महसूस करने लगते हैं, उनका चेहरा आँखों के सामने नजर आने लगता है, और अक्सर आप जागते हुवे भी उनके खयालों में खो जाते हैं, तो समझ लीजिये की आप प्यार में हैं।  

प्यार प्रबल भावनाओं का समूह है, जहाँ आप खुद को उस इंसान के प्रति समर्पित महसूस करते हैं। आपके हर पल में वो आपके ख्यालों में होता है, रोमेंटिक गाने सुन कर आपको लगने लगता है, जैसे की वो आपके लिए ही बनाए गए हों, फिल्में देखकर ऐसा महसूस होने लगता हैं, जैसे वो आपके प्यार की कहानी बयां कर रही हों। 

प्यार का इम्तिहान।

लेकिन प्यार का असल इम्तिहान तब शुरू होता है, जब वो इंसान आपको प्राप्त हो जाए, या आपको प्राप्त ना हो, जिससे आप एक पल बात करने के लिए भी तड़पते थे, उसके हसीन सपने देखा करते थे और दिन-रात भगवान् से सिर्फ यही दुवा मांगते थे की, है भगवन मुझे बस वो मिल जाए जिस से में प्यार करता हूँ, या करती हूँ।

यदि तब भी आप उसे उतना ही चाहेंगे, उसके दुख को अपना दुख समझेंगे, उसकी खुशी में अपनी खुशी ढूंढ लेंगे, उसकी उतनी ही फ़िक्र करेंगे, और उसके साथ हमेशा खड़े रहेंगे तो समझिये की आपका प्यार सच्चा है। प्यार का अनुभव आपको कभी भी कहीं भी किसी भी उम्र में हो सकता है। 

प्यार क्यों होता है। What is real love in Hindi

प्यार क्यों होता है, इसके मनोवैज्ञानिक पहलु पर हम नहीं जाना चाहते हैं, लेकिन प्यार एक सच्चाई है, जिसे झुटलाया नहीं जा सकता है।

चाहे विज्ञानं की नजर से इसे मस्तिक्ष में होना वाली रासायनिक क्रिया बताया जाए या सच्चा प्यार करने वाला व्यक्ति इसे दिल का खेल कहे, सच्चाई यही है की प्यार जब होता है, तो आप लाख समझाने के बाद भी अपना दिल खो बैठते हैं। 

इंसान एक सामाजिक प्राणी है, जिसे प्यार की आवश्यकता होती है, इंसान का जीवन प्यार के बिना संभव नहीं है, यदि प्यार ना हो तो इंसान- इंसान नहीं रहेगा। फिर चाहे वह प्यार एक पति का अपनी पत्नी के लिए हो, गर्लफ्रेंड का बॉयफ्रेंड के लिए, माँ-बाप का अपने बच्चे के लिए या इंसान का मानवता के लिए। 

प्यार का कोइ मजहब नहीं होता, प्यार ऊंच-नीच, छोटा-बड़ा या अमीरी-गरीबी से परे होता है, प्यार में किसी प्रकार के स्वार्थ या चालाकी की जगह नहीं होती है, ये दो दिलों का मेल है, जहाँ दिल मिलते हैं, और प्यार हो जाता है। 

प्यार को कहकर या किसी से माँग कर प्राप्त नहीं किया जा सकता है, बल्कि जीवन में वह समय आता है, जब आपके सामने आपका प्यार मौजूद होता है और  खुद ब खुद आपके दिल को इसका एहसास हो जाता है, और आप अपना दिल खो बैठते हैं। 

True love की 10 निशानियाँ। 10 signs of true love in Hindi

निश्चित ही प्यार की व्याख्या करना बहुत मुश्किल है, लेकिन यदि प्यार सच्चा हो, तो इसे महसूस किया जा सकता है।

हम यहाँ पर सच्चे प्यार (real love) की 10 ऐसी निशानियाँ बताने जा रहे हैं, जिन्हे सच्चे प्यार का आधार माना जाता है। यदि आपका प्यार भी सच्चा है, तो बताई गई इन 10 निशानियों में से कभी न कभी आपको भी कुछ जरूर महसूस हुई होंगी। (true love ki 10 nishaniyan)

  • क्या कभी आपके साथ ऐसा होता है, की आप किसी को बहुत पसंद करते हैं, लेकिन आप उसके सामने जाने से घबराते हैं। 

  • क्या कभी ऐसा होता है, की हर घड़ी सोते-जागते कोई आपके ख़यालों में रहता है, और उस शख्स के बारे में सोचना आपको अच्छा लगता है। 

  • जो शख्स आपको पसंद है, यदि कोई उसके लिए कुछ गलत कह देता है, तो आपको बुरा लगता है। 

  • क्या अपना पसंदीदा love song सुनने पर आपको लगता है, की जैसे यह song आपके लिए ही गाया गया हो। 

  • क्या उस शख्स की खुशी आपको अपनी खुशी लगती है, और अगर वो दुखी है, तो आप भी दुखी महसूस करने लगते हैं। 

  • किसी शख्स के साथ पुरा दिन बिताने के बाद भी क्या आपको दिन छोटा सा लगता है।

  • क्या किसी शख्स को पाने के लिए आप दुनिया की बड़ी से बड़ी दौलत को भी ठुकराने की इच्छा रखते हैं।

  • क्या किसी को पाने के लिए आप दुनिया से लड़ जाने का हौसला रखते हैं। 

  • जब कभी आप प्यार में होते हैं, तो अक्सर लोगो की परवाह करना छोड़ देते हैं, और दोस्तों से मिलना-जुलना भी आपका कम हो जाता है। 

  • आप उस शख्स से लड़ते-झकड़ते तो हैं, लेकिन बिना उससे बात करे एक दिन भी नहीं रह सकते हैं।

अंतिम शब्द।

दोस्तों इस आर्टिकल में आपने जाना सच्चा प्यार क्या होता है, What is real love in Hindi, सच्चा प्यार कैसे और क्यों होता है, और साथ ही आपने true love ki 10 nishaniyan भी जानी।

यदि आपने भी किसी से सच्चा प्यार किया है, या करते हैं, तो आर्टिकल में बताई गई प्यार की इन बातों को आपने जरूर महसूस किया होगा।

हमें उम्मीद है, दी गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी, यदि इस जानकारी से जुड़े आपके कोई सवाल हैं, या हमारे लिए कोई सुझाव है, तो आप कमेंट द्वारा हमें बता सकते हैं। 

Love day कब मनाया जाता है। 

This Post Has 6 Comments

  1. Shabnam bharti

    हम किसी से बहुत प्यार करते है पर वो हमसे बहुत नफरत करते है तो हम क्या करे हम उसके बिना एक पल भी नहीं रह सकते है कृप्या आप बताएँ की हम क्या करें

    1. Admin

      हेलो सबनम उस दूसरे व्यक्ति का क्या आपसे नफरत करने का कोई कारण है, क्योंकि बिना किसी कारण के कोई किसी से नफरत नहीं करता है। यदि नफ़रत का कोई कारण है, तो आप उन्हें अपना पक्ष साफ़ करने की कोशिश कर सकते हैं, यदि फिर भी आपके बीच यह नफरत की दिवार रहती है, तो बेहतर होगा की आप उनके बारे में सोचना बंद कर दें और आगे बढ़ें।

  2. Mahak

    Mere feoncy k bachelor lyf me bhut relationship rhe ( physical ) wo kehte h unhe real luv nhi hota … Mere sath wo 8 months se bate kr rhe h unhe muje se pehle attraction hi huwa …ky unhe mujse pyr ho skta h ???

    1. Admin

      bilkul ho sakta hai…..

  3. Jiya

    Bhula kar agye bada jao or aapne aap se payer karo aapne family se payer karo kush raho ach kam karo aapne aap ko busy rakho taki aapko yaad na aaye or jo nafrat kare ush se payer q karan hai or sirf kudh se payer karan chaye

Leave a Reply